क्या होता है विश्वघस्त्र पक्ष ?

विश्वघस्र पक्ष या तेरह दिनों का पक्ष बहुत समय से इस विषय पर लिखने का आग्रह कई विद्वज्जन कर रहे थे। प्रेरणा देने के लिए उन सभी विद्वज्जनों को श्रीमन्नारायण स्मरण पूर्वक प्रणाम करके विश्वघस्र पक्ष पर शास्त्रीय मत उपस्थापित करने का कुछ आयास प्रस्तुत है। ज्योतिष् में अंकों को भी शब्दों में लिखने की […]

क्या होता है विश्वघस्त्र पक्ष ? Read More »

षट्पदी स्तोत्र Launch

ग्रन्थ विवरणी – पंडित ब्रजेश पाठक ‘ज्यौतिषाचार्य’

लेखन और सम्पादन के साथ अभी तक मेरे नाम चार पुस्तकें हो चुकी हैं। जिनमें से दो ग्रन्थ तो ज्योतिष् के ही हैं। आइए क्रमशः इन ग्रन्थों के बारे में जानते हैं। 1. फलित राजेन्द्र : ग्रन्थकार – ब्रजेश पाठक ‘ज्यौतिषाचार्य’पुस्तक की भाषा – हिन्दीपढ़ने के अधिकारी – सभी लोगपुस्तक की स्थिति – सामान्य पवित्रता

ग्रन्थ विवरणी – पंडित ब्रजेश पाठक ‘ज्यौतिषाचार्य’ Read More »

सनातनियों के लिए अद्भुत संदेश

अवश्य पढें तथा शेयर करें……. ✓★ किसी भी विषय या शास्त्र या विद्या का ज्ञान विद्यार्थी को उस व्यक्ति से ज्ञान लेना चाहिए, जिसने वह ज्ञान अर्जित किया हो और उसमें निपुणता प्राप्त की हो । अधर्म की 5 शाखाएं हैं – विधर्म, परधर्म, आभास, उपमा और छल इनसे युक्त ध्रुव राठी जैसे सोशल मीडिया

सनातनियों के लिए अद्भुत संदेश Read More »

Astrology Vs Science

कथित विज्ञानवाद एवं ज्योतिषशास्त्र – Eye Opening Truth

मुंगफली में दाना नहीं तुम हमारी माता नहीं। यह तो संसार का बहुत पुराना प्रचलन है। व्यभिचारिणी स्वयं को सच्चरित्रा दिखाने के लिए साध्वी के ऊपर वैश्या होने का लांझन लगाती ही है। जिसको अपनी दुकान चलानी होगी वो जब तक दूसरों के सही प्रोडक्ट को नकली नहीं बताएगा तब तक उसका प्रोडक्ट बिकेगा कैसे

कथित विज्ञानवाद एवं ज्योतिषशास्त्र – Eye Opening Truth Read More »

पराशरमुनि एवं सूतजी का परिचय

पराशर मुनि और सूतजी कौन थे इसकी तो बहुत लम्बी कथा है। परन्तु अत्यंत सार रूप में बता रहा हूँ। ★ वशिष्ठ ऋषि के पुत्र शक्ति और शक्ति के पुत्र पराशर हैं। पराशर का काल महाभारत के आस पास का ही है। जो काल पाण्डवों का है उसी के समकक्ष काल पराशर का है। ★

पराशरमुनि एवं सूतजी का परिचय Read More »

व्यतीपात – भ्रामक पोस्ट का खंडन

✓✶ आज और कल अर्थात् 5 एवं 6 मार्च 2024 को व्यतीपात व्यतीपात बोलकर दान का अनन्त असंख्य फल बताने वाले तथा वराहपुराण का प्रमाण लेकर घूमने वालों से तुरन्त सावधान होने की जरूरत है। ✓✶ ऐसे सज्जनों से विनम्र आग्रह है कि ज्योतिषीय विषयों पर किसी विद्वान् ज्योतिषी से चर्चा करके ही कुछ प्रसारित

व्यतीपात – भ्रामक पोस्ट का खंडन Read More »

महाशिवरात्री

महाशिवरात्री विशेष – प्रहरपूजा का समय

महाशिवरात्री विशेष – प्रहरपूजा का समय प्रदोष में चार पहर की पूजा के लिए समय गणना – 8 मार्च 2024 को फाल्गुन कृष्ण प्रदोष शिवरात्रि व्रत है। इस दिन कई लोग शिवजी की प्रहर पूजा करते हैं इसे यामपूजा भी कहा जाता है । आइए शिवरात्रि पूजन के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों से अवगत

महाशिवरात्री विशेष – प्रहरपूजा का समय Read More »

Ek Akshohadi Sena

अठारह अक्षौहिणी सेना का परिमाण क्या होगा ? एक अद्भुत गणना

अठारह अक्षौहिणी सेना का परिमाण अठारह (अष्टादश) अक्षौहिणी कितना होता है ये जानने के लिए पहले एक अक्षौहिणी कितना होता है ये जानना होगा। उसके बाद उसे 18 से गुणा करना होगा तो 18 अक्षौहिणी कितना होता है ये पता लग जाएगा। अक्षौहिणी शब्द एक सेना मापक ईकाई है, जिससे सेना का परिमाण जाना या

अठारह अक्षौहिणी सेना का परिमाण क्या होगा ? एक अद्भुत गणना Read More »

Graho Ka Parmocchansh

ग्रहों के परमोच्चांश एवं अनुभव कथन

प्रतिदिन के ज्योतिष शास्त्रीय अभ्यास एवं विद्यार्थियों के द्वारा पठन पाठन कार्य से कुछ न कुछ नए अनुभव आते ही रहते हैं। जिनमें से कुछ महत्वपूर्ण अनुभव आपके साथ भी साझा करता हूँ जिससे की आपको भी कुछ प्रेरणा मिले। अभी कुछ समय मुकुल कौशिक नामक विद्यार्थी ने बृहत्पाराशर होराशास्त्र ग्रन्थ के एक श्लोक का

ग्रहों के परमोच्चांश एवं अनुभव कथन Read More »

मुहूर्त साधन

मुहूर्त साधन पर सरलतम विवेचना

आज मुहूर्त साधन विषय पर सुप्रसिद्ध कथाव्यास आचार्य श्री गोपेश भारद्वाज जी के द्वारा एक प्रश्न पूछा गया। प्रश्नकर्ता और मेरे बीच हुए बातचीत के अंश यथावत् प्रस्तुत किए जा रहे हैं। प्रश्नकर्ता – जय श्री राधे भैया ! कथा/पूजन/हवन अथवा किसी अनुष्ठान का स्वयं के लिए अथवा यजमान के लिए कैसे मुहूर्त देखा जाता

मुहूर्त साधन पर सरलतम विवेचना Read More »

मकर संक्रांति विशेष क्या करे क्या नहीं | Detail Analysis on makar Sankranti 2024

मकर संक्रांति मित्रों सम्पूर्ण सनातन परिवार में मकर संक्रांति एक महान् पर्व के रूप में मनाया जाता है। क्योंकि आज से हमारे जगत्नियन्ता सूर्यनारायण भगवान उत्तरायण होते हैं। इस वर्ष मकर में सूर्य संक्रान्ति 14/15 जनवरी 2024 को रात्रि 2:31 में हो रहा है।1 इसलिए इस वर्ष 15 जनवरी को संक्रांतिजन्य पुण्यकाल होने से मकर

मकर संक्रांति विशेष क्या करे क्या नहीं | Detail Analysis on makar Sankranti 2024 Read More »

Scroll to Top